ALL राजनीति मनोरंजन क्राइम राष्ट्रीय राज्यों से अज़ब गज़ब जॉब अलर्ट
चीनी राष्ट्रपति व मलेशियाई प्रधानमंत्री के बीच कोरोना वायरस समस्या पर बातचीत
February 16, 2020 • ADMIN

                                       

बीजिंग: चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने गुरुवार रात मलेशिया के प्रधानमंत्री महाथिर बिन मोहम्मद के साथ फोन पर बात की। शी चिनफिंग ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी से दोनों देशों के बीच लोगों की सामान्य आवाजाही पर अस्थाई रूप से प्रभाव पड़ा है लेकिन इससे इन दोनों देशों की जनता की गहरी मित्रता नहीं हिलेगी। दोनों देशों को मिलकर महामारी का मुकाबला करने के साथ द्विपत्रीय संबंधों, खासकर एक पट्टी एक मार्ग सहयोग को निरंतर बढ़ाकर सहयोग की अधिक उपलब्धियां हासिल करने की कोशिश करनी चाहिए ताकि दोनों देशों और दोनों देशों की जनता को अधिक लाभ मिले।


शी चिनफिंग ने बताया कि महामारी फैलने के बाद चीन सरकार ने पूरे देश की शक्ति लगाकर चौतरफा और सब से सख्त कदम उठाए और इसका सकारात्मक परिणाम भी हासिल किया है। चीन सराकर जनता का नेतृत्व कर महामारी की रोकथाम के संघर्ष में जीत हासिल करेगी और निश्चय ही इस महामारी के प्रभाव को न्यूनतम स्तर पर घटाकर चीनी अर्थव्यवस्था के विकास का रुझान बनाए रखेगी और चालू साल के विकास के लक्ष्य और कार्य को पूरा करने की कोशिश करेगी। इसके साए में हम अपने दूरगामी लक्ष्य की ओर बढ़ते रहेंगे।


शी चिनफिंग ने कहा कि महामारी को लेकर चीन ने जो शक्तिशाली कदम उठाए हैं, वह न सिर्फ अपनी जनता की स्वास्थ्य की जिम्मेदारी के तहत हैं बल्कि विश्व सार्वजनिक स्वास्थ्य कार्य के लिए योगदान भी है जिसे विश्व स्वास्थ्य संगठन और विभिन्न देशों की प्रशंसा मिली है।


महाथिर ने मलेशिया सरकार की ओर से चीन सरकार और चीनी जनता के प्रति सांत्वना व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि मलेशिया महामारी के निपटारे में चीनी पक्ष की बड़ी कोशिशों और इसमें मिली प्रगति की प्रशंसा करता है। साथ ही मलेशिया के विचार में ये एक जिम्मेदाराना बड़े देश के रूप में विश्व सार्वजनिक स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए चीन का योगदान है।
चीन का सच्चा दोस्त होने के नाते मलेशिया ने चीनी पक्ष को चिकित्सक सामग्रियां प्रदान की हैं और चीन को और मदद देने को तैयार है। आशियान देश चीनी पक्ष के साथ महामारी की रोकथाम में सहयोग करने को तैयार है। मलेशिया को पक्का विश्वास है कि राष्ट्रपति शी चिनफिंग के नेतृत्व में चीनी जनता अवश्य ही महामारी को पराजित करेगी और चीन का विकास अवश्य ही बहाल होगा।